Why can't I see the Hindi section?
अनुवाद कैसे करें?

लिनक्स से परिचय

निर्देश व अभ्यास

मॅक्टॅल्ट गॅरॅल्स

CoreSequence.com

उद्धरण 3.0.3 पिछला परिवर्तन 20030325  संस्करण


विषय सूची
परिचय
1. यह कुञ्जी क्यों?
2. यह पुस्तक किसे पढ़नी चाहिये?
3. इस पुस्तक के नये उद्धरण
4. परिवर्तन इतिहास
5. योगदान
6. राय
7. सर्वाधिकार
8. आपको क्या क्या चाहिये होगा?
1. लिनक्स क्या है?
1.1. इतिहास
1.2. प्रयोगकर्ता के लिये अन्तरापृष्ठ यानी इण्टर्फ़ेस
1.3. क्या लिनक्स का भविष्य उज्ज्वल है?
1.4. लिनक्स की विशेषतायें
1.5. लिनक्स की नस्लें
1.6. सारांश
1.7. अभ्यास
2. फ़टाफ़ट शुरुआत
2.1. प्रवेश यानी लॉगिन, प्रयोगकर्ता अन्तरापृष्ठ यानी यूज़र इण्टर्फ़ेस सक्रिय करना, व बहिर्गमन यानी लॉग आउट करना
2.2. मूल बातें
2.3. सहायता माँगना
2.4. अभ्यास
3. फ़ाइलों व फ़ाइल तन्त्र के बारे में
3.1. लिनक्स फ़ाइल तन्त्र का सिंहावलोकन
3.2. फ़ाइल तन्त्र का मार्गदर्शन
3.3. फ़ाइलों में बदलाव करना
3.4. फ़ाइल सुरक्षा
3.5. सारांश
3.6. अभ्यास
4. प्रक्रियाएँ
4.1. प्रक्रियाओं का अन्दरूनी हुलिया
4.2. बूट प्रक्रिया, इनिट व शटडाउन
4.3. प्रक्रियाओं को सँभालना
4.4. प्रक्रियाओं को समयबद्ध करना
4.5. सारांश
4.6. अभ्यास
5. आई/ओ पुनर्निर्देशन
5.1. मानक इन्पुट व मानक आउट्पुट क्या हैं?
5.2. सारांश
5.3. अभ्यास
6. पाठ्य सम्पादन तन्त्र
6.1. पाठ्य सम्पादन तन्त्र
6.2. विम सम्पादन तन्त्र का इस्तेमाल
6.3. सारांश
6.4. अभ्यास
7. ये तेरा घर ये मेरा /home घर
7.1. आम रोजमर्रा की बाते
7.2. पाठ्य वातावरण
7.3. चैत्रिक वातावरण
7.4. ध्वनि कार्ड का जमाव
7.5. क्षेत्रीय जमाव
7.6. नये तन्त्रांश यानी सॉफ़्ट्वेयर का संस्थापन
7.7. सारांश
7.8. अभ्यास
8. प्रिण्टर व छपाई
8.1. फ़ाइलों को छापना
8.2. सेवक यानी सर्वर
8.3. छपाई में दिक्कतें
8.4. सारांश
8.5. अभ्यास
9. बॅकप के तरीके
9.1. परिचय
9.2. अपने मसले को बॅकप यन्त्र पर ले जाना
9.3. सारांश
9.4. अभ्यास
10. जालबन्धन यानी नॅट्वर्किङ्ग
10.1. आम जालबन्धन यानी नॅट्वर्किङ्ग
10.2. अन्तर्जाल(इण्टर्नेट)/आन्तरिक जाल(इण्ट्रानॅट) पर कार्यक्रम
10.3. कार्यक्रमों का दूरस्थ प्रचालन
10.4. जालबन्धित यन्त्र यानी नॅट्वर्क ऍप्लायंस के तौर पर लिनक्स
10.5. सुरक्षा
10.6. सारांश
10.7. अभ्यास
अ. अब क्या करें?
अ.1. कुछ अच्छी किताबें
अ.2. कुछ अच्छे स्थल
आ. डॉस व लिनक्स निर्देश
इ. शॅल की विशेषतायें
इ.1. समान विशेषतायें
इ.2. असमान विशेषतायें
ई. ग्नू मुक्त प्रलेखन अनुमतिपत्र
ई.1. भूमिका
ई.2. विस्तार और परिभाषायें
ई.3. शब्दशः प्रति बनाना
ई.4. अधिक मात्रा में प्रतियाँ बनाना
ई.5. परिवर्तन
ई.6. दस्तावेज़ों को जोड़ना
ई.7. दस्तावेज़ों का सङ्कलन
ई.8. स्वतन्त्र कृतियों के साथ एकत्रीकरण
ई.9. अनुवाद
ई.10. समाप्ति
ई.11. इस अनुमति के भविष्य में परिवर्तन
ई.12. इस अनुमति पत्र का अपने दस्तावेज़ में कैसे इस्तेमाल करें
शब्दकोष
तालिकाओं की सूची
2-1. फ़टाफ़ट शुरुआत के निर्देश
3-1. फ़ाइलों के प्रकार
3-2. जड़ निर्देशिका की उपनिर्देशिकायें
3-3. सबसे आम जमाव की फ़ाइलें
3-4. आम यन्त्र यानी डिवाइस
3-5. Color-ls में रङ्गों की मूल स्थिति
3-6. ls के लिये प्रत्ययों की मूल पद्धति
3-7. प्रवेश्यता की रीतियों के कूट
3-8. प्रयोगकर्ता समूह के कूट
3-9. chmod की मदद से फ़ाइलों की संरक्षा
3-10. नये निर्देश
4-1. प्रक्रियाओं पर नियन्त्रण
4-2. प्रक्रियाओं को सँभालने के निर्देश
7-1. आम पर्यावरण परिवर्तनीय यानी ऍन्वायरन्मॅण्ट वॅरियेबल
8-1. छपाई से सम्बन्धित निर्देश
9-1. बॅकप निर्देश
B-1. डॉस/लिनक्स निर्देशों का सिंहावलोकन
C-1. शॅलों की समान विशेषतायें
C-2. शॅलों की असमान विशेषतायें
चित्रों की सूची
1-1. शिमियन रॅड कार्पेट: स्वचालित पॅकॅज प्रबन्धन
1-2. अबिवर्ड शब्द संसाधक टास्कबार
2-1. टर्मिनल खिड़की यानी विण्डो
3-1. लिनक्स फ़ाइल प्रणाली की रचना
3-2. कठोर व मृदु कड़ी का वर्णन
4-1. फ़ोर्क व ऍक्ज़ॅक का वर्णन
4-2. क्या आप और तेज़ चल सकते हैं?
4-3. जीटॉप प्रणाली की देखरेख करने वाला तन्त्र
8-1. रॅड्हॅट प्रिण्ट्कॉन्फ़
8-2. जाल अन्तरापृष्ठ से प्रिण्टर की स्थिति
9-1. फ़्लॉपी प्रारूपक यानी फ़ॉर्मैटर
9-2. ऍक्स्सीडीरोस्ट
10-1. जालबन्धन जमाव का अस्त्र
10-2. ऍस ऍस ऍच ऍक्स११ अग्रप्रेषण यानी फ़ॉर्वर्डिङ्ग
1 1