Saving page now... https://hindi.sakshi.com/national-politics/2019/11/28/maharashtra-govt-formation-live-uddhav-thackeray-to-take-oath-ceremony As it appears live September 19, 2020 7:19:20 PM UTC

उद्धव कैबिनेट की पहली बैठक, हो सकते हैं कई बड़े फैसले  

जनता का अभिवादन स्वीकार करते महाराष्ट्र के नवनियुक्त सीएम उद्धव ठाकरे - Sakshi Samachar

मुंबई : शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेे ली है। शपथ लेने के बाद सीएम उद्धव ठाकरे से सीधे सिद्धिविनायक मंदिर में पूजा अर्चना करने पहुंचे। इसके बाद सीएम सहयाद्री गेस्ट हाउस पहुचें जहां कैबिनेट की बैठक शुरू हो चुकी है। खबर है कि बैठक में किसानों के लिए कुछ बड़े फैसले लिए जा सकते हैं। इस बैठक में आदित्य ठाकरे भी मौजूद हैं।


फडणवीस ने साधा निशाना उद्धव सरकार पर निशाना

पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने उद्धव सरकार पर टिप्पणी की है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि महा विकास आघाड़ी के कॉमन मिनिमम प्रोग्राम में सालों से पिछड़ा मराठवाड़ा, विदर्भ और उत्तर महाराष्ट्र के बारे में कोई जिक्र नहीं है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है, उम्मीद है सरकार इस पर ध्यान देगी।

मराठी में ली सीएम पद की शपथ

इससे पहले राज्यपाल ने उ द्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के तौर पर गुरुवार को शपथ ग्रहण की। उद्धव ने शिवाजी महाराज को नमन करते हुए मराठी भाषा में शपथ ली। वह ठाकरे परिवार से पहले मुख्यमंत्री हैं। महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने शाम 6.40 बजे उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। उद्धव के बाद कैबिनेट के अन्य मंत्रियों को शपथ दिलाई गई। कार्यक्रम के दौरान उद्धव ने भगवा रंग का कुर्ता पहना हुआ था, जो कि उनकी पार्टी का रंग भी है

जनता का किया आभार

विनम्रता दिखाते हुए औपचारिकताओं को पूरा करने के तुरंत बाद, ठाकरे ने मंच के सामने कदम रखा और सम्मान के लिए महाराष्ट्र के लोगों का आभार व्यक्त करते हुए घुटने के बल बैठकर जनता की ओर नतमस्तक हुए। उनके अलावा शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस के दो-दो विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली। इनमें शिवसेना के एकनाथ शिंदे व सुभाष देसाई, राकांपा के जयंत पाटिल व छगन भुजबल और कांग्रेस के बालासाहेब थोरात व नितिन राउत शामिल हैं।

शपथ ग्रहण समारोह में मौजूद दिखी वीवीआईपी हस्तियां

शिवाजी पार्क में शपथ ग्रहण समारोह में कारोबारी मुकेश अंबानी, उनकी पत्नी नीता अंबानी और बेटे भी मौजूद रहे। इसके आलावा पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, मनोहर जोशी, मप्र के सीएम कमलनाथ, कांग्रेस नेता अहमद पटेल, कपिल सिब्बल, पृथ्वीराज चव्हाण, द्रमुक के स्टालिन, टीआर बालू, मनसे के राज ठाकरे ने हिस्सा लिया। इसके अलावा संजय राउत, मल्लिकार्जुन खड़गे, शरद पवार और सुप्रिया सुले भी समारोह में शामिल हुए।

पीएम मोदी ने दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उद्धव ठाकरे को महाराष्ट्र के सीएम बनने पर बधाई दी है। उन्होंने यह बधाई ट्वीट के जरिए दी है। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि "उद्धव ठाकरे जी को महाराष्ट्र के सीएम के रूप में शपथ लेने के लिए बधाई। मुझे विश्वास है कि वह महाराष्ट्र के उज्ज्वल भविष्य के लिए लगन से काम करेंगे।"


कार्यकर्ताओं ने मनाया जश्न

उद्धव ठाकरे के मुंबई में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद, शिवसेना कार्यकर्ता ना सिर्फ महाराष्ट्र बल्कि जम्मू में जश्न मना रहे हैं। सीएम पद की शपथ लेने के बाद महाराष्ट्र में शिवसैनिकों ने जश्न मनाया।


अजित पवार पहुंचे सबसे पहले

सबसे पहले स्टेज पर एनसीपी नेता अजित पवार पहुंचे इसके बाद शिवसेना के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके मुरली मनोर जोशी, एमएनएस चीफ राजठाकरे, कांग्रेस नेता अहमद पटेल, कपिल सिब्बल, अभिषेक मनु सिंघवी, एमपी के सीएम कमलनाथ जैसे तमाम पार्टियों के बड़े नेता पहुंच गए है।




शपथ के बाद करेंगे कैबिनेट की बैठक

शपथ के के बाद लगभग 8 बजे नई गठबंधन सरकार की पहली कैबिनेट बैठक करेंगे। 'महाराष्ट्र विकास अगाड़ी' की एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में एनसीपी नेता जयंत पाटिल ने इस बात की पुष्टि की। पाटिल ने कहा, "हमारी सरकार की पहली कैबिनेट बैठक आज बाद में होगी।"


गठबंधन के अपने सामान्य न्यूनतम कार्यक्रम (सीएमपी) को जारी करने के बाद उनकी टिप्पणी आई - दस्तावेज में "धर्मनिरपेक्ष" शब्द को शामिल किए जाने की कथित असहमति के बावजूद, गठबंधन ने धर्मनिरपेक्ष मूल्यों को संविधान में बनाए रखने का वादा किया। कथित तौर पर शिवसेना को चिंता थी कि वह अपने हिंदुत्व के वोटबैंक को अलग कर सकती है, लेकिन सीएमपी की प्रस्तावना में "धर्मनिरपेक्ष" दो बार दिखाई देती है।


राहुल ने उद्धव को शुभकामनाएं दीं

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को शुभकमानाएं दीं और शपथ ग्रहण में शामिल नहीं हो पाने के लिए खेद जताया। उद्धव को लिखे पत्र में गांधी ने यह भरोसा भी जताया कि शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस मिलकर एक स्थिर, धर्मनिरपेक्ष और जनहित वाली सरकार देंगी।

गौरतलब है कि बृहस्पतिवार की शाम शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे । उनके साथ राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस के कुछ नेता भी मंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। राज्य में तीनों पार्टियां मिलकर नयी सरकार बना रही हैं।

सोनिया ने उद्धव को दी शुभकामनाएं

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बृहस्पतिवार को महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को शुभकामनाएं दीं और शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं हो पाने के लिए खेद प्रकट करते हुए उम्मीद जताई कि उनके नेतृत्व में बनने जा रही सरकार राज्य की जनता की आकांक्षाओं को पूरा करेगी। कांग्रेस प्रमुख ने उद्धव को पत्र लिखकर शुभकामनाएं दीं।

उद्धव के पुत्र आदित्य ठाकरे ने बुधवार की रात सोनिया और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से मिलकर उन्हें शपथ ग्रहण के लिए आमंत्रित किया था। सोनिया ने शिवसेना प्रमुख को लिखे पत्र में कहा, ‘‘आदित्य कल मुझसे मिले थे और आपकी ओर से आमंत्रण दिया था। मुझे खेद है कि मैं इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पा रही हूं।'' उन्होंने कहा कि जब देश के सामने भाजपा से अप्रत्याशित खतरे पैदा हुए हैं, उस समय शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस एक साथ आई हैं।

Advertisement
Back to Top